Mp Board Bonus Marks 2022 class10वीं-12वीं के पेपरों में निकली गलती bonus marks will be given in maths and business studies

 Error in 10th-12th papers, bonus marks will be given in maths and business studies

10वीं-12वीं के पेपरों में निकली गलती, गणित व व्यवसाय अध्ययन में में मिलेंगे बोनस अंक
Evaluation of board examinations of Mashim started, in the first phase, the copies of the examinations which have been completed till February 28 will be checked
माशिमं की बोर्ड परीक्षाओं का मूल्यांकन शुरू, पहले चरण में 28 फरवरी तक संपन्न हो चुकी परीक्षा की कापियां होंगी चैक
मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की दसवीं-बारहवीं परीक्षा का मूल्यांकन शनिवार से शुरू हो गया। बोर्ड परीक्षाओं के मूल्यांकन में पहले चरण में 28 फरवरी तक संपन्न हो चुकी परीक्षा की कापियां चैक की जाएंगी। पहले चरण के कई पेपरों में गलती निकली है। सर्वाधिक गलतियां दसवीं के गणित पेपर में है। मंडल के द्वारा गलती वाले पेपरों में छात्रों को बोनस अंक दिए गए हैं। मंडल ने इसके निर्देश जारी कर दिए है।

मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की 17 फरवरी से शुरू हुई दसवीं-बारहवीं की परीक्षा का मूल्यांकन शनिवार से जिला स्तर पर समन्वयक संस्था में शुरू किया गया है। राजधानी में मूल्यांकन केंद्र समन्वयक संस्था माडल स्कूल टीटी नगर को बनाया गया। है। पहले दिन समन्वय संस्था में 120 शिक्षक कॉपियां चैक करने पहुंचे। अध्ययन के प्रश्न पत्र में प्रश्न क्रमांक 1 (6) में दसवीं गणित के छह प्रश्नों में निकली गलती: दसवीं-बारहवीं के कुछ पेपरों में इस बार भी गलतियां निकली है। इसमें सबसे ज्यादा गलतियां दसवीं के गणित के पेपर में है। दसवीं गणित के प्रश्न-पत्र में प्रश्न क्रमांक एक (1), प्रश्न क्रमांक 2 (4), प्रश्न क्रमांक 2 (5), प्रश्न क्रमांक 4] (1), प्रश्न क्रमांक 4 (2) गलत है। इन प्रश्नों को विद्यार्थियों को हल करने का प्रयास किया होगा, तो उन्हें निर्धारित अंक प्रदान किए जाएंगे

जबकि दसवीं के प्रश्न क्रमांक 5 (3) में विद्यार्थियों को बोनस का एक अंक दिया जाएगा। इसी तरह बारहवीं के व्यवसाय सभी विद्यार्थियों को बोनस का एक अंक दिया जाएगा। बारहवीं के फिजिक्स के पेपर में तीन प्रश्नों की जा रही है। में गलती निकली है। इसमें प्रश्न क्रमांक 1 (ई), प्रश्न क्रमांक 2 (2) व प्रश्न क्रमांक 16 में हल करने के प्रयास में छात्रों को निर्धारित अंक दिए जाएंगे। इसमें प्रश्न क्रमांक 16 तीन नंबर का है। बारहवीं के केमेस्ट्री पेपर में प्रश्न क्रमांक 12 के अथवा का प्रश्न पाठ्यक्रम अनुसार नहीं पूछा गया है। इसी पेपर में प्रश्न क्रमांक 17 का अथवा का (2) गलत है। इन प्रश्नों को हल करने के प्रयास में विद्यार्थियों को निर्धारित अंक प्रदान किए जाएंगे।

तीन स्तर पर बनते हैं माशिमं के पेपर माध्यमिक शिक्षा मंडल में दसवीं-बारहवीं के पेपर के कई सेट बनते हैं। यह भी तीन स्तर पर बनते हैं। इसमें पेपर सेटर, माइरेटर व प्रश्न पत्र विश्लेषक चिंह लगाता है।

होता है। पेपर सेंटर द्वारा पेपर बनाया जाता है। इसमें कोई गलती नहीं हो, तो माईरेटर इसे चैक करता है। इसके बाद प्रश्न पत्र विश्लेषक द्वारा चैक किया जाता है। बावजूद इसके गणित के पेपरों इतनी संख्या गलती निकलना इनकी योग्यता पर प्रश्न 
अप्रैल के अंतिम सप्ताह या मई के पहले सप्ताह में आएगा रिजल्ट

मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की दसवीं-बारहवीं के विद्यार्थियों की कॉपियों के मूल्यांकन के अंक इस बार आनलाइन भेजे जा रहे है। मूल्यांकन के अंक आनलाइन आने से मंडल को रिजल्ट बनाने में समय नहीं लगेगा। साथ ही इस बार परीक्षा जल्द शुरू होने से मूल्यांकन भी जल्द शुरू हो गया है। मंडल द्वारा अप्रैल के अंतिम सप्ताह या मई के प्रथम सप्ताह में रिजल्ट घोषित करने की तैयारी 
पंद्रह मार्च से शुरू होगा दूसरा चरण

पहले चरण का मूल्यांकन में 28 फरवरी तक हो चुके पेपरों की कॉपियां चैक होगी। जबकि दूसरा चरण पंद्रह मार्च से शुरू होगा मूल्यांकन केंद्र के अंदर एक बार प्रवेश करने के बाद शिक्षक को बाहर नहीं जाने दिया जाएगा। इसके अलावा कापियों को चैकिंग आदर्श उत्तर के अनुसार होगी छात्र को हर स्टेप के नंबर देना होंगे।

तीस हजार शिक्षक जांचेंगे एक करोड़ कापियां

माध्यमिक शिक्षा मंडल को दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षा में करीब तीस हजार शिक्षक करीब 18 लाख विद्यार्थियों को एक करोड़ कापियों का मूल्यांकन करेंगे। इसमें बारहवीं की कापी जांचने का काम प्राथमिकता से किया जाएगा। मूल्यांकन के दौरान केंद्रों पर धारा 144 लागू रहेगी मूल्यांकन कार्य प्रतिदिन सुबह 10.30 बजे से शुरू होगा।



Second phase will start from 15th March

 In the evaluation of the first phase, the copies of the papers done till February 28 will be checked. While the second phase will start from March 15, once inside the evaluation center, the teacher will not be allowed to go out. Apart from this, the checking of copies will be according to the ideal answer, the student will have to give the numbers of each step.

 Thirty thousand teachers will check one crore copies

 In the tenth-twelfth board examination to the Board of Secondary Education, about thirty thousand teachers will evaluate one crore copies of about 18 lakh students. In this, the work of checking the copy of class XII will be done on priority. Section 144 will remain in force at the centers during the evaluation, the evaluation work will start from 10.30 am every day.

0 Comments