Mp Board Exam 2022 Latest Update : सवा घंटे पहले पहुंचना होगा परीक्षा केंद्र

Mp Board Exam latest news


 टीकमगढ़ जिले में दो साल बाद फिर हाईस्कूल और हायर सेकंडरी के विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे। 17 फरवरी से माशिमं बोर्ड की हाईस्कूल व हायर सेकंडरी की परीक्षा सुबह 10 बजे से प्रारंभ होगी, लेकिन परीक्षार्थियों को सवा घंटे पहले यानि 8.45 बजे परीक्षा केंद्र पर पहुंचना होगा। ताकि केंद्र के अंदर ठीक तलाशी हो सके। गौरतलब है कि कोरोना के चलते दो साल बाद माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की हाईस्कूल और हायर सेकंडरी की परीक्षाएं होने जा रही हैं। यह परीक्षाएं 17 और 18 फरवरी से शुरू होंगी। इसके लिए टीकमगढ़ जिले में 44 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

इनमें प्राइवेट परीक्षार्थी जिन केंद्रों पर परीक्षा देंगे उन केंद्रों को अति संवेदनशील बनाया गया है। 44 केंद्रों जाएगा। पर हाईस्कूल के 17 हजार 913 नियमित और 1500 प्राइवेट परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। वहीं हायर सेकंडरी के 8 हजार 864 छात्र छात्राएं नियमित और 684 प्राइवेट परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि नकल रहित परीक्षा कराने के लिए जिला प्रशासन ने अभी से तैयारियां प्रारंभ कर दी हैं। इसके तहत निर्णय लिया गया है कि परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र के अंदर सवा घंटे पहले यानि 8.45 बजे प्रवेश दिया जाएगा। इसके बाद केंद्र में तलाशी के बाद उन्हें परीक्षा कक्ष में प्रवेश मिलेगा। हालांकि परीक्षार्थियों को प्रश्न पत्र 10.30 बजे दिया

11 और 12 फरवरी से बांटी जाएगी परीक्षा सामग्री

जिला शिक्षा अधिकारी एसी वर्मा ने बताया कि बोर्ड परीक्षा की सामग्री 11 और 12 फरवरी को बांटी जाएगी। यह सामग्री शहर के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय क्रमांक एक से बांटी जाएगी। इसके बारे में सभी परीक्षा केंद्रों के केंद्राध्यक्षों को अवगत करा दिया गया है।

इस बार बोर्ड परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रश्न की नकल रोकने पर विशेष फोकस रहेगा। वजह यह है कि इस बार बोर्ड ने प्रश्न पत्र के मॉड्यूल में परिवर्तन किया है, जिसके तहत प्रश्न पत्र के कुल प्राप्तांक के 40 फीसदी प्रश्न वस्तु निष्ठ रहेंगे। हालांकि बीते वर्षों में जिला प्रशासन बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने में काफी हद तक कामयाब रहा है, लेकिन कहीं-कहीं नकल होने की शिकायतें मिली थीं। ऐसे में इस बार प्रश्न पत्र के कुल प्राप्तांक के 40 फीसदी प्रश्न वस्तुनिष्ठ होने की वजह से इनकी नकल रोकना सबसे बड़ी चुनौती होगा।

Mp Board Exam latest news


  After two years in Tikamgarh district, the students of high school and higher secondary will again appear in the board examination. From February 17, the examination of the High School and Higher Secondary of the Mashim Board will start from 10 am, but the candidates will have to reach the examination center one and a half hours before i.e. 8.45 am. So that proper search can be done inside the center. Significantly, due to Corona, the Board of Secondary Education Board's High School and Higher Secondary examinations are going to be held after two years. These exams will start from February 17 and 18. For this 44 examination centers have been set up in Tikamgarh district.


 In these, the centers where private candidates will take the examination, those centers have been made very sensitive. 44 centers. But 17 thousand 913 regular and 1500 private candidates of high school will give the exam. At the same time, 8 thousand 864 students of higher secondary students will appear in the regular and 684 private candidates will appear in the examination. The District Education Officer said that the district administration has already started preparations for conducting the mock-free examination. Under this, it has been decided that the candidates will be given entry inside the examination center one-and-a-half hours before i.e. 8.45 am. After this, after searching the center, they will get entry in the examination hall. Although the question paper was given to the examinees at 10.30


 Examination material will be distributed from February 11 and 12

 District Education Officer AC Verma told that the material of the board examination will be distributed on February 11 and 12. This material will be distributed from the Government Excellence Higher Secondary School number one of the city. The center heads of all the examination centers have been informed about this.


 This time there will be a special focus on stopping the copying of objective questions in the board examination. The reason is that this time the board has changed the module of the question paper, under which 40 percent questions of the total score of the question paper will be objective type. Although in the past years, the district administration has been successful to a great extent in preventing cheating in the board exams, but there were complaints of copying at some places. In such a situation, this time the biggest challenge will be to stop copying because 40 percent of the questions of the total score of the question paper are objective.

0 टिप्पणियाँ