Mp Board Exam 2022 Latest News : टेंडर फेल होने से नहीं आई प्रश्न बैंक




कक्षा 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए बांटी जानी थी प्रश्न बैंक 10वीं व 12वीं बोर्ड की परीक्षा शुरू होने को 10 दिन शेष है, लेकिन जिले के विद्यार्थियों को अब तक प्रश्न बैंक नहीं मिली। टेंडर नहीं होने से स्थानीय स्तर पर छपाई की स्वीकृति के लिए फाइल कलेक्टर के पास ही पड़ी है। ऐसी स्थिति में विद्यार्थियों को प्रश्न बैंक से परीक्षा की तैयारी करने के लिए कम समय मिलेगा।


माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा 10वीं व 12वीं की वार्षिक परीक्षाएं 17 एवं 18 फरवरी से होना है। कोविड- 19 संक्रमण के चलते स्कूल शिक्षा विभाग ने परीक्षा की तैयारी के लिए विद्यार्थियों के लिए प्रश्न बैंक उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। इस संबंध के निर्देश प्रदेश के सभी जिला शिक्षाधिकारियों को दिए गए थे। निर्देश थे कि टेंडर प्रक्रिया के तहत प्रश्न बैंक छपवाकर विद्यार्थियों को बांटी जाए। कुछ जिलों में तो यह प्रक्रिया शुरू हो गई और छपाई होकर प्रश्न बैंक बंट भी गई लेकिन खंडवा जिले में टेंडर नहीं डलने से यह काम नहीं हो सका। ऐसे में शिक्षा विभाग ने जिलास्तर पर प्रश्न बैंक छपवाने स्वीकृति के लिए फाइल कलेक्टर के पास पहुंचाई है, जिसकी छपाई का काम स्वीकृति के बाद ही होगा। 

एक या दो दिन में छपकर बंट जाएंगी प्रश्न बैंक ,टेंडर प्रक्रिया नहीं होने से प्रश्न बैंक अब तक छप नहीं पाई है। एक या दो दिन में छपाई होते ही उसका वितरण भी स्कूलों के माध्यम से विद्यार्थियों को कर दिया जाएगा।

 जेएस छाबड़ा, प्रभारी राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान 

परीक्षा की तैयारी के लिए नहीं मिलेगा पर्याप्त समय विभागीय सूत्रों के अनुसार विद्यार्थियों को परीक्षा के दो सप्ताह पहले तक प्रश्न बैंक मिल जाना थी। जिससे वह प्रश्नपत्रों की तैयारी सही समय पर कर पाते। अगर सोमवार को कलेक्टर प्रश्न बैंक छपाई की स्वीकृति देते हैं तो विभाग को उसकी छपाई में चार से पांच दिन का समय लग जाएगा और स्कूलों के माध्यम से इसका वितरण दो दिनों में होगा। ऐसे में विद्यार्थियों को परीक्षा की तैयारी के लिए पर्याप्त समय नहीं मिल पाएगा।

Mp Board Exam 2022


 The question bank was to be distributed for class 10th and 12th board examinations, 10 days are left for the start of 10th and 12th board exams, but the students of the district have not got the question bank yet. Due to lack of tender, the file is lying with the collector for approval of printing at the local level. In such a situation, students will get less time to prepare for the exam from the question bank.




 The Board of Secondary Education has to conduct the annual examinations of class 10th and 12th from February 17 and 18. Due to the Kovid-19 transition, the School Education Department has decided to provide question banks for the students to prepare for the examination. Instructions in this regard were given to all the district education officers of the state. There were instructions that under the tender process, the question bank should be printed and distributed to the students. In some districts, this process started and the question bank was divided after printing, but in Khandwa district this work could not be done due to non-submission of tender. In such a situation, the education department has sent the file to the collector for approval to print the question bank at the district level, whose printing work will be done only after approval.


Question bank will be printed and distributed in a day or two, due to lack of tender process, the question bank has not been printed yet. As soon as it is printed in a day or two, it will also be distributed to the students through schools.


  JS Chhabra, in-charge of National Secondary Education Campaign


 According to departmental sources, the students had to get the question bank two weeks before the examination. So that he could prepare the question papers at the right time. If the collector gives permission for printing the question bank on Monday, then the department will take four to five days to print it and it will be distributed through schools in two days. So the students will not get enough time to prepare for the exam.



0 Comments